Advertisement

कटहल की खेती कैसे करे


कटहल (जैक फ्रूट) की खेती कैसे करे

-कटहल की खेती के विषय में गाँव के बड़े बुजुर्ग कहा करते है की है इसकी खेती आपको कभी गरीब नहीं रहने देगी !

Advertisement
कटहल एक ऐसा फल है फल कहे या सब्जी अभी तक ये तय नहीं हो पाया है भारत में जिस तरह से इसकी सब्जी पसंद की जाती है उस नजरिये से इसे सब्जी की सूचि में रखना ही सबसे सही होगा पर अगर हम इसके english नाम की और जाए तो हमे पता चलता है इंग्लिश में इसे जैक फ्रूट कहते है तो हमारा रहस्य बरकरार रहता है की कटहल आखिर क्या है ? जो भी पर आज हम विस्तार से जाने गे कटहल के बारे में

कटहल के गुण –

कटहल का उपयोग सब्जी के रूप में तो पुरे भारत में पसंद किया जाता है इसके अलावा कटहल को आचार बना के भी खाया जाता है कटहल फलो में सबसे बड़ा फल होता है जो की अपने गुणों के लिए भी हमेशा हमारे किचन की शोभा बढ़ाता है कटहल के गुणों की बात करे तो ये आयरन, विटामिन ए, सी, , सी, थाइमिन, पोटैशियम, कैल्शियम, राइबोफ्लेविन, और जिंक की भरपूर मात्रा लिया हुवा है पुरे भारत में करीब 18 हजार हेक्टेयर में कटहल की खेती की जाती है जिसमे अकेले आसाम में 8 हजार हेक्टेयर में इसकी खेती होती है

कटहल की किस्मे

कटहल में 2 तरह की प्रजातिया खास तोर पर होती है जिनमे एक मुलायम गुदे वाली और एक ठोस गुदे वाली होती है इसके अतिरिक्त और भी किस्मे कटहल की पायी जाती है जिनमे से कुछ चम्पा,खाजा ,गुलाबी है

कटहल के लिए भूमि का चयन-

कटहल की जडे गहरी होने के कारण हमे हमेशा कटहल को दोमट मिट्टी में ही इसकी बुवाई करना चाहिए जल के निकास के लिए ये मिटटी उत्तम विकल्प है समुद्र ताल से करीब 1500 मीटर की उचाई पर कटहल को लगाया जा सकता है कटहल के लिए भूमि के चयन मे ph 7-7.5 होना चाहिए कटहल एक लम्बी अवधि तक जीवित रह कर फल देने वाली खेती है

कटहल की खेती कैसे करे –

कटहल का पेड़- कटहल के वृक्ष की खास बात ये है को ये फल जड़ से लेकर तनों और शाखाओं तक लगता है। इस तरह हमे एक पेड़ से क्विंटलों के हिसाब से फल मिलता है और ऐसा कई महीनो तक चलता रहता है।
कटहल की जड़े भी बहुत उपयोगी मानी जाती है अगर आपने बीरबल की कहानी “कटहल का पेड़” पढ़ी है तो आप बखूबी जानते ही होंगे !

कटहल की बुआई

कटहल की बुवाई के लिए पक्के हुए कटहल के बीज से और इसी तरह नर्सरी से पोधे ला कर भी अच्छी किस्म की कटहल की बुवाई करना एक बेहतर विकल्प है जिसमे हम कटहल के पौधों की जड़ से नये पोधे लगाये जाते है एक पोधे से दुसरे की दुरी करीब 40 फिट होनी चाहिए इस तरह से लगाये हुए पोधे करीब 5-6 साल में फल देने के लिए तैयार हो जाते है वही अगर बीज से हम कटहल को लगाते है रो करीब 8-10 साल में हमे फल मिलता है
कटहल के पेड़ लगाने का सबसे सही समय फरवरी है पर हम इन्हें बरसात के मोस्सम में भी लगा सकते है कटहल एक मुनाफे वाली खेती है जो की हमेशा फल देने वाली होती है इसलिए कहा भी जाता है जिधर होगी कटहल की खेती उधर से दूर रहेगी गरीबी !!
उम्मीद करते है मित्रो आप जरुर कटहल की खेती की उपयोगिता समझ गए होंगे आपको ये लेख कैसा लगा कमेंट कर जरुर बताये !!
Admin:

View Comments (7)

  • Kathal ke phodhe kaha milenge mera whats no.8290532071

  • Kathal ke phodhe kaha milenge mera whats no.8290532071

  • मोहम्मद इरफ़ान जी आप अपने क्षेत्र के आस पास किसी भी अच्छी नर्सरी से उन्नत किस्म का कटहल पौधा ला कर लगा सकते है या आधिक जानकारी के लिए आप अपने क्षेत्र के कृषि विभाग के अधिकारियों से भी इस विषय में मदद ले सकते है ।

  • 1 kathel se kitne pese kama sakte h

  • 8630220042 whats app no आप मेरे नंबर पर फोन करे।

  • मेरे को कटहल के के 10 पौधे चाहिए अगर आपके पास हो तो संपर्क करें 9783950992

  • मे कटहल और सहजन की खेती करना चाहता हु