Advertisement

ब्रोकली (broccoli) की खेती कैसे करे


ब्रोकली (broccoli) की खेती कैसे करे
ब्रोकली क्या है
ब्रोकली फूलगोभी की तरह दिखने वाली एक ऐसी सब्जी है जो की प्राय सभी घरो के किचन में कम ही देखी जाती है परन्तु जो इसके गुणों से वाकिफ है उनके लिए ये प्रोटीन से भरपूर एक पसंदीदा फ़ूड
Advertisement
है दिखने में गोभी और रंग में हरे होने की वजह से
ब्रोकली को हरी गोभी भी कहते है
गोभी की तरह ही दिखने वाली ब्रोकली पत्तो के चारो ओर बीच में फुल की तरह लगती है जिसे एक बार तोड़ लेने के बाद ये पुन: उसी धड में दुसरे फूल के रूप में लग जाती है हालाकि पहले लगे फूल की तुलना में ये छोटा होता है
जलवायु :-
ब्रोकली की खेती के लिए हमे सामान्य ठंडी और आर्द्र जलवायु की आवश्यकता होती है जो की सितम्बर से नवम्बर के मध्य में इसको नर्सरी में तेयार कर बुवाई कर ली जाती है
भूमि :-
ब्रोकली की खेती के लिए हम किसी भी तरह की भूमि और विशेषकर दोमट मिट्टी या हल्की बुलई दोमट मिट्टी जिसका की PH मान 6.0 -7.5 हो में करना बेहतर परिणाम दिलाता है
किस्मे :- ब्रोकली की निम्न मुख्य किस्में है
· ग्रीन हेड किस्म
· इटैलियन ग्रीन
· डीपीजीवी 1
· डीपीपीबी 1.
· पूसा ब्रोकली 1
· इसके अलावा ब्रोकली के संकर बीज की भी कई किस्मे है
खाद और उर्वरक :-
खेत की तेयारी के साथ ही खेत में 50 से 60 टन सड़ी हुयी खाद का प्रयोग किया जाता है एवंम 100 से 120 किलो. ग्राम नाइट्रोजन प्रति हेक्टेअर
और फॉसफोरस 45-50 कि०ग्रा० प्रति हेक्टेअर की मात्रा मिट्टी के परिक्षण के बाद प्रयोग में लाई जाती है जिसमे नाइट्रोजन को 3 भागों में बांट कर प्रयोग में लाया जाता है जो की रोपाई के 25, 45 और 60 दिनों करते है
ब्रोकली की खेती में सबसे अहम् बात किसानो को इसके बाजार की जानकारी का ज्ञान होना आवश्यक है क्योकि एक सिमित वर्ग ही है जो की ब्रोकली के गुणों के कारण इसकी खरीददारी में रूचि रखता है
Admin: